Ajab Gajab

जानिए क्यों चाँद पर कदम रखने वाले पहले आदमी ने मांगी थी इंदिरा से माफ़ी

जानिए क्यों चाँद पर कदम रखने वाले पहले आदमी ने मांगी थी इंदिरा से माफ़ी

चाँद पर पहला कदम रखने वाले पहले इन्सान के रूप में नील आर्मस्ट्रांग का नाम हमारे दीमक में सबसे पहले आता है. नील आर्मस्ट्रांग के विनम्रता के किस्से पुरे देश भर में सुनाये जाते है. उनमे इतनी अच्छाई थी की वो इतनी बड़ी हस्ती होने के बाजजूद अपने से छोटे और अनुभवी व्यक्ति का भी सम्मान करते थे. कुछ गलत करने पर भी माफ़ी मागने से कभी पीछे नहीं हटते थे. नील आर्मस्ट्रांग और इंदिरा गाँधी इन दोनों के बीच कुछ ऐसा ही एक किस्सा हुआ था जब नील आर्मस्ट्रांग ने किसी भी तरह की शर्म न करते हुए इंदिरा गाँधी जी से माफ़ी मांगी थी. असल में अपनी कोई भी गलती न होने के बावजूद इंदिरा गाँधी जी को अपने कारण होने वाली तकलीफ देख उनसे रहा नहीं गया.

पूर्व विदेश मंत्री नटवर सिंह ने एक बार यह कहानी दुनिया के सामने लायी थी वो ऐसे –

आर्मस्ट्रांग’ और ‘एडविन’ इनका चंद्रमामिशन इंदिरा गाँधी जी ने सुबह के ४. ३० बजे तक जाग करके देखा था. इस मिशन के बाद आर्मस्ट्रांग और एडविन इन्होंने दुनिया का दौरा किया था. कुछ साल बाद जब वे भारत आये तब उन्होंने संसद में स्थित प्रधानमंत्री कार्यालय जाकर इंदिरा गाँधी जी से मुलाक़ात की. उस समय नटवर सिंह ने ही एडविन और आर्मस्ट्रांग को प्रधानमंत्री से मिलने बुलाया था. अमरीका के राजदूत भी वहा उपस्थित थे. इस ऐतिहासिक पल को उस वक्त कैमरे में कैद किया गया और वे चले गए. वहा पूरी तरह से चुप्पी छायी हुई थी किसी के पास कुछ भी बोलने के लिए शब्द नहीं थे. इसलिए इंदिरा गाँधी जी ने नटवर सिंह को इशारा किया तभी नटवर जी ने आर्मस्ट्रांग से कहा की

“इंदिरा गाँधी जी को इस अभियान में इतनी रूचि थी की चाँद पर पड़ने वाला आपका पहला कदम वह किसी भी हाल में देखने से नहीं चूकना चाहती थी जिस कारण वह सुबह होने तक जगी रही.”

इसपर आर्मस्ट्रांग जल्द से अपनी जगह से उठकर इंदिरा गाँधी जी से कहने लगे

“आपको होने वाली तकलीफ के लिए मैं माफ़ी चाहता हूँ ,अगली बार से थोड़ा जल्दी चाँद पर पहुंच जाऊंगा.”

आर्मस्ट्रांग की यह विनम्रता देख इंदिरा गाँधी जी चकित हो गयी . अपनी कोई भी गलती न होने के बावजूद इतने बड़े शख्स ने माफ़ी मांगी यह देख वह हैरान हो गयी.

इंदिरा गाँधी जी ने खुद आगे आकर नील आर्मस्ट्रांग के इस व्यव्हार की प्रशंसा की जिसे पूरे विश्व में सराहना मिली.

Click to add a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Ajab Gajab

More in Ajab Gajab

सनकी राष्ट्रपति जो मदिरा पान व् धूम्रपान न करने वालों को देना चाहता है मौत

AshishApril 4, 2018

भारतीय इतिहास का रईस महाराजा जिससे अंग्रेज़ भी मांगते थे क़र्ज़

AshishApril 4, 2018

क्यों भारतीय सेना सिर्फ जिप्सी इस्तेमाल करती है ?

AshishApril 4, 2018

Sedlec Ossuary एक रहस्यमयी चर्च जिसमे सजीं हैं ४० हजार लोगों की हड्ड‍ियां

AshishApril 4, 2018

जीवट चीनी जनजाति जिन्होंने बना डाला समुद्र पर तैरता गाँव

AshishApril 4, 2018

पढ़िए भारतीय सविंधान पे क्यों हर भारतीय को गर्व करना चाहिए

AshishApril 4, 2018

शोध में मिले प्रमाण ख़त्म हो जायेगा धर्म 21 वीं सदी में

AshishApril 4, 2018

ऑगस्ट लैंडमेसर जिसने भरी सभा में की थी हिटलर की बेइज़्ज़ती

AshishApril 4, 2018

महाभारत कालीन रहस्यमयी लाख का महल जहाँ दुर्योधन पांडवों की हत्या करना चाहते थे

AshishApril 4, 2018

Copyright 2016 Comicbookl / All rights reserved